भारत माता की जय

भारत माता की जय भारत की मिट्टी की शान, भारत माँ के पूत महान। रक्षक इसके तीन सिपाही, सैनिक, शिक्षक …

Read more

प्यारा तिरंगा

विषय- झंडा प्यारा यही तिरंगा झंडा, भारत में लहराता | भारत भूमि की ताकत बनकर, अरि को आँख दिखाता || …

Read more

आजादी के अमृत महोत्सव हर घर तिरंगा

आजादी के अमृत महोत्सव
हर घर तिरंगा

क्यों छिन रहे हो हमारी नींद ,
पल भर के लिए सो नहीं सकते ।
पूछ ले तू अपने दिल से जरा ,
सामने किसी के रो नहीं सकते ।।
घूम रहे हो रात के अँधियारे में ,
उजाले में तुम दिख नहीं सकते ।
काली रात में तेरे काले ये चेहरे ,
दिन उजाला सीख नहीं सकते ।।
घूम रहे हो तुम गलियों के सहारे ,
कभी भारतीय बन नहीं सकते ।
छुपकर रहोगे सदा ही किसी से ,
सीना तान कभी तन नहीं सकते।।
काट रहे वस्त्र टुकड़ियों में तुम ,,
कटे वस्त्र को तुम सी नहीं सकते ।
नृशंस हत्या करनेवाले जल्लादों ,
तू सोच खुलकर जी नहीं सकते।।
उजाले में आकर हाथ मिलाओ ,
उजाले में रहना सीख यहीं सकते।
हाथ तिरंगा लेकर हर घर तिरंगा ,
लहरा तुम भी कही हो सकते ।।
भक्ति गजल राम तेरी नैया
अरुण दिव्यांश
डुमरी अड्डा ,
छपरा सारण ,
बिहार ।

आजादी महोत्सव

Lakhan

राष्ट्रीय गजल/शायरी

आजादी है,आजादी का उत्सव मनायेंगे ।
पछहत्तरवां बर्ष का,ये महोत्सव मनायेंगे ।।
__
आजादी का अमृत का,नाम दे दिया गया ।
फहरा के ध्वज, तिरंगा , राष्ट्रगान गायेंगे ।।
___
घर-घर में खुशी होगी,झंडा के लहर की ।
जब नागरिक घरों में, ये झण्डा फहरायेंगे ।।
___
होली-दीवाली ईद ,समझ लीजे महा पर्व ।
मिल करके सभी पर्व को,दिल से मनायेंगे ।।
___
इस देश के विकास का, संकल्प लेके हम ।
विकास की मिल-जुल के, ये गंगा बहायेंगे ।।

Read more

why your adsense is shut down fix issues before your site is ready for AdSense adsense wants original content Adsense connecting message adsense closing,how to avoid