बुन्देली संस्कृति के प्रति जागरूकता की अलख जगाने 250 किमी की साइकिल से दूरी तय करेंगे युवा

26 और 27 अक्टूबर को करेंगे जागरूक

कोंच (जालौन) युवाओं को बुन्देली माटी, बुन्देली संस्कृति के प्रति युवाओं में नई ऊर्जा का संचार करने एवं स्वास्थ्य, शिक्षा आदि उद्देश्यों के साथ जागरूकता को लेकर कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के युवाओं द्वारा 250 की दूरी साइकिल से तय करेंगे।
कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के संस्थापक/संयोजक पारसमणि अग्रवाल ने बताया कि अपनी माटी अपनी संस्कृति को सरंक्षित व पल्लवित करने का प्रयास कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल का हमेशा रहता है, बुन्देली संस्कृति के प्रति युवाओं में नई ऊर्जा का संचार करने एवं स्वास्थ्य, शिक्षा सोशल मीडिया के प्रति जागरूकता आदि उद्देश्यों के साथ फेस्टिवल आयोजन समिति के सदस्य मुंबई के ठाकुर कॉलेज ऑफ साइंस एंड कॉमर्स के असिस्टेंट प्रोफेसर आशीष रिछारिया एवं शिक्षा क्षेत्र से ही जुड़े शुभम पटेल द्वारा साइकिल से 250 किमी की यात्रा कर युवाओं को जागृत किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि युवा 26 अक्टूबर को झांसी से उरई के लिए साइकिल से निकलेंगे तथा 27 अक्टूबर को पुनः उरई से झांसी के लिए लोगों को जागरूक करते हुए वापसी करेंगे।
पारस ने कहा कि जो भी युवा इस मुहिम में साथ देना चाहे वह 7007084166 मेरे मोबाइल नम्बर पर सम्पर्क कर सकता है।
मुंबई में रहते हुए भी अपनी माटी के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा रखने वाले आशीष रिछारिया ने बताया कि मुंबई में रहते हुये उन्होंने एस एन जिम से ये प्रेरणा मिली उनके कोच समीर सर ने उन्होंने ये जज्बा दिया कि आप चाहे तो कोई भी कठिन काम आसान कर सकते है बस दिल मे जुनून होना चाहिए। झांसी निवासी शुभम पटेल ने बताया कि ऑप्टिमम जिम के इकराम सर ने उन्हें यह कदम उठाने के लिए हौसला भरा।
इस अवसर पर कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के सरंक्षक एवं फेस्टिवल मुखिया 2021 अपर जिला जज अनिल कुमार यादव ने दोनों युवाओं का उत्साह वर्धन करते हुये कहा कि ऐसे युवा ही एक बेहतर राष्ट्र का निर्माण करते है।

Share

Leave a Comment