भारत माता -आत्माराम चौबे

 

माता के चरणों में 
नमन वंदन प्रणाम करते हैं ।
रक्षा करना माता सबकी
हम झुककर शीश नवाते हैं ।

भारत माता के आंचल में रहकर
हम सबको जीवन मिलता है ।
भारत माता हम सबकी माता है
सुख चैन यहां पर भी मिलता है ।

भारत माता को स्वच्छ रखें
ये फर्ज हमारा बनता है ।
पेड़ पौधे धरती में लगायें
जीवन सुख मय रहता है ।

धरती में हरियाली रहती
शुद्ध हवा सबको मिलती है ।
पशुओं और जानवरों की
घास खाकर भूख मिटती है ।

पर्वत और जंगल पठार भी 
इसी धरती पर रहते हैं ।
जंगली जानवर भी रहते हैं
जंगल की शरण ही पाते हैं ।

किसान का जीवन खेतों में
रहकर अपनी फसल उगाता है ।
कड़ी मेहनत खेतों में करता
अनाज पैदा भी वो करता है  ।

तरह तरह की खनिज सम्पदा
भारत माता के अन्दर भरी पड़ी है ।
पावन पवित्र नदियां भी बहती हैं
जो धरती की गोद में ही बहती हैं ।

पेड़ पौधों को कभी न कांटों
पर्यावरण  सुरक्षित रहता है ।
खाने को फल इनसे मिलते हैं
सभी का जीवन सुरक्षित रहता है ।

    अनन्तराम चौबे अनन्त
     जबलपुर म प्र/2956/
         25/8/2021
        9770499027
  

Share

Leave a Comment