शारदीय नवरात्रि का महत्व दुष्कर्मीयों को उनके पापों की सजा दिलाना है

*शारदीय नवरात्रि का महत्व*

********
शारदीय नवरात्रि का महत्व भी नारी के आत्मविश्वास को जगाना है।

जो जीवन में अनायास आ गए ऐसे पाप कर्म को जीवन से मिटाना है।

नवरात्रि के पावन नौ दिनों में ब्रह्मांड की शक्ति को बुलाया जाता है

जो आसुरी शक्तियां इस धरा पर आ गई उनको दूर भगाना है।

नारी शक्ति महा प्रबल शक्ति हैं इसका भी आभास नारी को हो जाए

देवता भी जिसकी पूजा करते ये नवरात्रि की महिमा नारी को समझाना है।

जीवन के जितने शुभ कर्म है वह नवरात्रि में ही हो जाते है

शारदीय नवरात्रि में माता के भक्तों को भी माँ से मिलाना है।

शारदीय नवरात्रि मे ही नौ रूपों की पूजा करने से माँ प्रसन्न हो जाती है

माँ दुर्गा का वरदान पाने को शारदीय नवरात्रि मे माँ का पूजन करना है।

नारी शक्ति अबला नहीं ये सबला है यह नारी को बताना होगा

नवरात्रि मे दुर्गा पूजन करके नारी को भी दुर्गा का रूप धराना है

धरती पर नारी दुष्कर्मीयों के कारण ही कमजोर समझी जाती

शारदीय नवरात्रि का महत्व दुष्कर्मीयों को उनके पापों की सजा दिलाना है

सीताराम पवार
उ मा वि धवली
जिला बड़वानी
9630603339

Share

Leave a Comment