साहित्यिक प्रदर्शनी में प्रदर्शित होगा कोंच का साहित्य*

*कमिश्नर झाँसी की पहल के तहत गठित बुन्देलखण्ड साहित्य उन्नयन समिति द्वारा आयोजित है प्रदर्शनी*

कोंच (जालौन) मंडलायुक्त, झांसी अजय शंकर पांडेय की बुन्देली संस्कृति को सरंक्षित एवं संग्रहित करने की पहल के तहत गठित बुन्देलखण्ड साहित्य उन्नयन समिति द्वारा आयोजित तीन दिवसीय साहित्यिक प्रदर्शनी एवं कार्यक्रम में कोंच के साहित्य को भी प्रदर्शित किया जाएगा।
विदित हो कि बुन्देलखण्ड साहित्य उन्नयन समिति की आगामी तीन दिवसीय साहित्यिक प्रदर्शनी एवं कार्यक्रम आयोजन हेतु मंडलायुक्त द्वारा नामित समिति के सरंक्षक क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी डॉ. राजेश प्रकाश एवं समिति के अध्यक्ष बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ० पुनीत बिसारिया आदि के द्वारा तीन दिवसीय कार्यक्रम की तिथि का निर्धारण 27,28 एवं 29 अक्टूबर का किया गया। समिति द्वारा कार्यक्रम दीनदयाल सभागार झांसी में किया जाएगा।
तीन दिवसीय साहित्यिक प्रदर्शनी में कोंच के साहित्यकारों द्वारा सृजन किये गए साहित्य का भी प्रदर्शन किया जाएगा। इसी सिलसिले में बुंदेलखंड साहित्य उन्नयन समिति के सदस्य पारसमणि अग्रवाल ने कोंच नगर के साहित्य को एकत्रित करना प्रारंभ कर दिया है जिसके तहत आज वरिष्ठ साहित्यकार डॉ० हरिमोहन गुप्त द्वारा रचित खण्ड काव्य एवं महाकाव्य क्रमशः सन्त शिरोमणि रविदास, दस्यु अंगुलिमाल, शुद्र पुत्र एकलव्य, आचार्य सुदामा नवीन चिंतन, कुणाल एक अप्रियतम त्याग एवं साध्वी सीता कृति पारस को प्रदान की गई। कवि /समीक्षक भास्कर सिंह माणिक,साहित्यकार दिनेश मानव आदि ने अपनी कृतियां भेंट की।
समिति सदस्य पारसमणि अग्रवाल ने कहा कि बुंदेलखंड साहित्य प्रदर्शनी के लिए बुन्देलखण्ड में एवं बुन्देलखण्ड पर रचे साहित्य को साहित्यकारों द्वारा अपनी प्रकाशित पुस्तकें एवं अप्रकाशित पांडुलिपियों को प्रदान किया जा सकता है। कोंच क्षेत्र के साहित्यकार प्रदर्शनी हेतु अपनी या अपने पूर्वज की प्रकाशित किताब या पांडुलिपि मेरे मोबाइल नम्बर 7007084166 पर सम्पर्क कर प्रदान कर सकते है। जिससे उनकी साहित्य रचनाधर्मिता को भी बुन्देली साहित्य प्रदर्शनी में स्थान मिल सके।(सुधीर श्रीवास्तव)

Share

Leave a Comment