नव वर्ष स्वागत-अभिषेक श्रीवास्तव “शिवाजी”

*नव वर्ष 2022 की स्वागत★*

मनाएं हम नई साल की खुशी, या मनाएं पुराने का गम
कोरोना आ जाता है बार-बार, कैसे हंसे खुल कर हम

इन दो-तीन सालों में जाने क्या क्या नहीं देखा है हमने
खुद से भी तगड़े लोगों को मौत से लड़ते देखा है हमने

हम जनवरी ही मनाते रहते हैं,और दिसंबर बीत जाती है
हम यूं आज कल में ही रह जाते हैं,और वर्ष बीत जाती है

इन 2 वर्षों में कोरोना ने हम लोगों को जीवन का मर्म बताया
किससे कितनी दूरी बनाएं किससे कितना मिलना है सिखाया

और यह कोरोना अपनों को ही अपने घर के अंदर बंद करवाया
बाहर निकलना दूभर हुआ और बाहर बैठे लोगों को घर बुलाया

आओ अब हम मिलकर करते हैं,इस 2022 की स्वागत “शिवा”
वो दिन चला जाए अब, जिसने सबका मुस्कुराहट है छीना हुआ

*युवा रचनाकार*
*अभिषेक श्रीवास्तव “शिवाजी”*
*अनूपपुर, मध्यप्रदेश

Share

Leave a Comment