नव नवल-चंदा देवी साहू शिक्षिका

“नव नवल”

नव वर्ष आया ,नव वर्ष आया,
खुशियों के साथ है ,मंगल लाया।

नव प्रभात, नव भोर है आई ,
मन में नई ,खुशी है लाई ।

नव संवत्सर ,नवल विचार,
जीवन में सफलता, लाए अपार ।

नई सुबह ने ,धूम मचाई ,
चहुं ओर ,फैली मधुराई।

नव वर्ष ने, ली अंगड़ाई ,
खुशियां हर घर ,हर आंगन छाई।

स्वरचित/मौलिक/ अप्रकाशित
श्री मती चंदा देवी साहू शिक्षिका
शा मा शाला जैरबारा
जिला सागर

Leave a Comment