कर्नाटक विराट कवयित्री परिवार राष्ट्रीय मंच द्वारा ऑनलाइन काव्य गोष्ठी

शिक्षक दिवस के पावन पुनीत अवसर पर विराट कवयित्री परिवार राष्ट्रीय मंच द्वारा ऑनलाइन काव्य गोष्ठी का आयोजन कर्नाटक और महाराष्ट्र इकाइयों के साथ सम्मिलित रूप से धूमधाम से संपन्न हुआ, कार्यक्रम की अध्यक्षा आदरणीया अर्पिता अग्रवाल जी ने सभी को शुभकामना देते हुए कार्यक्रम का प्रारंभ किया कार्यक्रम की मुख्य अतिथि आदरणीया गीता पांडे अपराजिता जी ने सभी के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए सभी को पाए हुए ज्ञान का विस्तार करने की प्रेरणा देते हुए सभी को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित की।
कार्यक्रम का प्रारंभ शोभा रानी तिवारी जी के द्वारा सुमधुर मां शारदे की स्तुति के द्वारा हुआ। कार्यक्रम में संचालक मंडल के रूप में नीलू सक्सेना जी मनजीत कौर जी बीना आडवाणी जी तथा साधना मिश्रा विंध्य जी ,सभी ने मंच को अपने शब्दों के जादू से बांधकर रखा, कवि सम्मेलन बड़े ही गौरव पूर्ण ढंग से पूर्ण हुआ,
कार्यक्रम के समापन पर विराट कवयित्री परिवार के संस्थापक आदरणीय अतर सिंह प्रेमी जी ने सभी को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ ही कोरोना की तीसरी लहर से सतर्क रहने का संदेश भी दिया। विराट कवयित्री परिवार की उपाध्यक्षा साधना मिश्रा विंध्य जी ने अवगत कराया कि कार्यक्रम का उद्देश्य शिक्षकों के प्रति अपने मन के भावों को व्यक्त करते हुए भावी पीढ़ी को गुरु के महत्व और महिमा से अवगत कराना था। वर्तमान समय नवाचार का है परंतु यह नवाचार भी हमारे जीवन को तभी प्रेरित कर सकता है जब हमें गुरु का सानिध्य मिलें। कार्यक्रम की अध्यक्षा अर्पिता जी ने सभी को समाज के प्रति जागरूक रहने का संदेश दिया और जीवन पर्यंत शिक्षा लेने के साथ ही सभी को उचित मार्गदर्शन के द्वारा सकारात्मक सोच से ओतप्रोत रहने का सुंदर संदेश देते हुए कार्यक्रम के समापन की घोषणा की।

Share

2 thoughts on “कर्नाटक विराट कवयित्री परिवार राष्ट्रीय मंच द्वारा ऑनलाइन काव्य गोष्ठी”

Leave a Comment