नव वर्ष-नरेंद्र चावला

नव वर्ष

World of writers

नरेंद्र चावला का सबको 2022 नववर्ष अभिनंदन।

तभी होगा नववर्ष स्वागत और होंगे सभी प्रसन्न।

जब घातक महामारी के बाद सभी ख़ुशिया मनाएंगे।

जब अभावगग्रस्त चेहरे खिलेंगे,नहीं मुरझाएंगे।।

वैसे तो नित्य भोर की बेला में होता है नववर्ष आगमन।

जिससे प्रत्येक प्राणी का हो जाता है प्रफुल्लित मन।!

दिनकर की स्वर्णिम रश्मि व पक्षियों का चहचहाना।

ओस की बूंदों में पत्तों का – संगीतमय फड़फड़ाना।।

कलियों तथा पुष्पों का वातावरण सुरभित बनाना।

प्रत्येक जीवधारी से प्रेमभाव से, मिलना मिलाना।।

जब प्रत्येक निर्धन-धनी के चेहरों पे होंगे,खुशी के रंग।

तभी होगी हर दिल-दिमाग में नववर्ष की उमंग।।

जब भारत में स्वार्थरहित,स्वदेशप्रेम ध्वज लहराएगा।

पूर्ण विश्वास है शीघ्र ही ऐसा सुखमय नववर्ष आएगा।।

*********नरेन्द्र चावला-गुरुग्राम-भारत *********

Share

Leave a Comment