नव वर्ष-डॉ गुलाब चंद पटेल

नव वर्ष

फूल खिलते हैं हर जीवन बाग में
नए वर्ष की खुशिया चमके निगाह में

World of writers

ये कविता नहीं प्यार भरी बाते हैं
आप के इंतजार में हम सदा रहते हैं

नव वर्ष अभी अभी जो आया है
खुशियो की बारात वो साथ लाया है

2022 जनवरी को आया है
आने से पहले वो नताल साथ लाया हे

अंग्रेजी माह में नया साल मनाते हैं
नए साल में नई उम्मीदें साथ लाया हे

सब के दिलों में प्यार उभर आता है
जीवन में सभी के उमंग दे जाता है

खुशी से दिल में प्यार जताता है
ग़म से दिल को आजाद कराता है

आप की दोस्ती हमे बहुत प्यारी है
बिन खुशिया जिंदगी लगती बेचारी है

नए वर्ष की नई किरण दस्तक दे जाती है
खुश रहो आप हमेशा खुशियां मुस्काती है

रोज डे हे नाम मेरा
जीवन में साथ तेरा पाया है

बहुत इंतजार आप का करते हैं डियर
दिल से हम कहते तुम्हें हैप्पी न्यू ईयर

डॉ गुलाब चंद पटेल
कवि लेखक अनुवादक
अध्यक्ष
गांधीनगर साहित्य सेवा संस्थान
गुजरात
Mo 8849794377

Share

2 thoughts on “नव वर्ष-डॉ गुलाब चंद पटेल”

  1. वाह गुलाब भाई बहुत खूब रचना है आपकी , बेहतरीन , बधाई शुभ कामनाएं

  2. वाह क्या बात गुलाब भाई बेहतरीन रचना , बधाई

Leave a Comment