नव वर्ष संदेश 2022मोहनलाल भन्साली

191 ……$$ नववर्ष का संदेश $$
काव्यपाठ…………………. मोहनलाल भन्साली
*नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!*
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!
विकास का चक्र, प्रगति का विकल्प लेकर आता है,
उल्लासित मन, नववर्ष का स्वागत अभिन्नदन करता है।
नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!…..
वेलकम पार्टियों का सैलाब आ जाता है,
शुभकामना संदेश का अंबार लग जाता है,
आतिशबाजी एवं जगमगाता शहर नजर आता है,
*भविष्यदृष्टा सुखःद जीवन का मंत्रोच्चार कराता है।।*
नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!…..
*नव तकनिकी युग आया है,*
फास्टट्रैक का संसाधन लाया है,
*युवावर्ग ने इन्टरनेट को अपनाया है,*
पलक झबकतें ही सात समुन्द्र पार काम कर पाया है।।
नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!……
*राष्ट्रहित में नारा नहीं, उन्नति का वर्ष मनाना है,*
भ्रष्टाचारियों व राष्ट्रद्रोहियों से देश को बचाना है,
*भारत के गांवों को मैन्यूफैक्चरिंग हब बनाना है,*
*विश्वस्तरीय बाजारों में भारतीय बाजार सजाना है।।*
नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!……
*फ्री का प्रलोभन नहीं,समृद्धशाली भारत चाहिए,*
साम्प्रदायिकता का जहर नहीं, सौहार्द प्रेम चाहिए,
*रोजगार का आश्वासन नहीं,घर घर कारोबार चाहिए,*
छलवा नेता नहीं, श्रीवृद्धि का सशक्त रोडमैप चाहिए।।
नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!……
*नववर्ष का आगाज़, नया संदेश लेकर आता है!*
सुर्य का आलोक, पुलकित पैगाम लेकर आता है!!
विकास का चक्र, प्रगति का विकल्प लेकर आता है,
हर्षित मोहन,नववर्ष का स्वागत अभिन्नदन करता है।।
स्वागत अभिन्नदन करता है,स्वागत अभिन्नदन करता है
$$ *हार्दिक शुभकामनाएं* $$
रचनाकार ::मोहनलाल भन्साली “कलाकार” गंगाशहर
मो. 7734968551 दिनांक 18.12.2021

Share