नव वर्ष-उषा श्रीवास

🌹🌹🌹नववर्ष🌹🌹🌹
स्वागत! नववर्ष आओ हाथ मिलाएं।
बुझे दिलों में फिर से उम्मीद जगाएँ,
छोड़े ओ बीते दिनों की यादें,
स्वस्थ जीवन की आस जगाएँ।।

रोये बहुत हैं ,हम उन्हे हँसाएँ।
खायी हैं चोट मरहम उन्हे लगाएँ,
मानवता का भाव लिये,
स्वागत! नववर्ष आओं हाथ मिलाएँ।।

उजली सुबह को पकड़ हम लाएँ।
असम्भव में भी उम्मीद जगाएँ,
उदार भारत के लिए,
स्वागत! नववर्ष आओ हाथ मिलाएँ।।

पृथ्वी आकाश पर महाक्रांति की
हर घर अलख जगाएँ,
जन जन में प्राणों की खातिर,
स्वागत! नववर्षआओ हाथ मिलाएँ।

अतीत के स्याह रातों को भुलाएँ।
जीवन में नूतन क्रांति लाएँ,
सहमें मानव के अभयदान के लिए,
स्वागत! नववर्ष आओं हाथ मिलायें।।

उषा श्रीवास (भदौरा)
बिलासपुर छत्तीसगढ़
मो० नं० 7587323325

Share