नव वर्ष-दीपाली

नव वर्ष २०२२
World of writers

नव वर्ष का उमंग छाया
नई नई उम्मीद लाया,

अपनों संग खुशियां लाया
स्वप्नों के पंख लाया,
त्योहारों की रेल आयी
खुशियों की सौगद लायी,
आया आया नव वर्ष आया
अपनों का संग लाया।
विभिन्नताओ में एकता
का पल आया,
तोड़कर सर्व सीमाओं को
रंग गया जग भाव रंग में,
खुलकर खिलखिला रहे
गली और महौलें,
नव वर्ष में नव संकल्प बनाएं
जिन्दगी को नव दिशा दिलाए
कमजोरों का सहारा बने
जीवन का दर्द समेटकर
खुशियों की बहार देते रहे
आया आया नव वर्ष आया
खुशियों की सौगद लाया।
Read your life

Deepali D Mirekar
Vijayapur karantaka

Share

9 thoughts on “नव वर्ष-दीपाली”

Leave a Comment